दिन भर ऊर्जावान बने रहने के लिए नियमित रूप से सुबह-सुबह 5 मिनट करे यह योगासन

शारीरिक और मानसिक स्तर पर लोगों को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इन समस्याओं के निवारण में योगा काफी ज्यादा फायदेमंद होता है। नियमित रूप से योगाभ्यास करने से शरीर बीमारियों से सुरक्षित रहता है तथा मानसिक तनाव से भी राहत मिलती है और ऊर्जा का स्तर बढ़ता है।

जीवन में सुख और शांति बनाए रखने के लिए तथा मजबूत शरीर के लिए योगा बहुत मददगार है। यह मस्तिष्क को भी सक्रिय रखने में मदद करता है। भावनात्मक, शारीरिक अनुभव जीवन को आसान और सुख में बनाने में मदद करता है।

ऐसे में हर व्यक्ति को ऐसी दैनिक दिनचर्या का पालन करना चाहिए जिससे दिनभर तरोताजा की बनी रहे। कई बार लोगो दिनचर्या काफी व्यस्त होती है। लोग नौकरी और सही प्रेरणा न मिल पाने की वजह से नीरस और अभाव महसूस करने लगते हैं।

ऐसे में यदि दिन की शुरुआत योगा से की जाती है तो शरीर दिनभर ऊर्जावान और उत्साहित बना रहता है। स्वस्थ मन और स्वस्थ शरीर पाने के लिए बेहतर ऊर्जा के साथ अपने दिन की शुरुआत योगा से जरूर करें।

योगा करने के लिए बहुत ज्यादा समय देने की जरूरत नहीं है। सुबह के समय 5 से 10 मिनट का समय पर्याप्त है। अगर आप 5 मिनट भी योगाभ्यास करते हैं तो आपका मस्तिष्क ऊर्जावान महसूस करेगा। आइए जानते हैं दिन भर ऊर्जावान होने के लिए सुबह-सुबह कौन से योगासन करना चाहिए।

भुजंगासन

भुजंगासन शरीर को लचीला बनाता है। पेट की चर्बी को कम करने में भी काफी मदद करता है। इस योगासन को करने के लिए सबसे पहले जमीन पर पेट के बल एकदम सीधे लेट जाएं।

फिर अपने दोनों हाथों की हथेलियों को कंधे की चौड़ाई से अलग करते हुए  शरीर के निचले भाग के साथ जमीन पर रख दें। गहरी सांस लें और अपने शरीर के ऊपरी भाग को धीरे धीरे उठाएं।

फिर अपनी सांस को छोड़ते हुए धीरे-धीरे अपने शरीर को फर्श पर नीचे लाएं। यह प्रक्रिया 5 मिनट करें। इसके गजब के फायदे देखने को मिलेंगे।

ताड़ासन

 ताड़ासन दिन भर ऊर्जावान बने रहने में काफी मदद करता है। ताड़ासन करने के लिए सबसे पहले अपने दोनों पैरों की एड़ियों एवं पंजों के बीच थोड़ी दूरी बनाते हुए बिल्कुल सीधे खड़े हो जाएं और अपने दोनों हाथों को अपने कमर के सीधे में लाएं।

अब हाथ ऊपर उठाते हुए हथेलियों और अंगुलियों को आपस में मिला दें। अपने गर्दन को बिल्कुल सीधा रखें और नजर बिल्कुल सामने रखें। अब पैरों की एड़ियों को ऊपर की तरफ उठाएं और अपने पूरे शरीर के भार को पंजे पर टिक आने की कोशिश करें।

अपने पेट को अंदर खींचते हुए एक पोज बनाएं और शरीर को संतुलन में रखें। 5 मिनट तक इस योगासन को करें। इसके चमत्कारी लाभ देखने को मिलेंगे।

सुखासन :-

सुखासन को करने के लिए सबसे पहले ध्यान मुद्रा में आराम से बैठ जाएं। अब अपने पेट को पीछे से दाहिने हाथ की मदद से अपनी बाई कलाई को पकड़ने की धीरे-धीरे कोशिश करें और अपने कंधे को पीछे खींचते हुए धीरे-धीरे गहरी सांस लें।

अब अपनी सांस को छोड़ते हुए पैर तरफ झुके और अपने सिर को दाहिने घुटने में छुपा ले। सिर्फ अपनी सांस को धीरे-धीरे लेते हुए पुनः प्रारंभिक स्थिति में आ जाएं। यह योगासन पूरे शरीर की एक्सरसाइज कर देता है।

त्रिकोणासन

त्रिकोणासन करने के लिए सबसे पहले अपने दोनों पैरों को फैलाकर खड़े हो जाएं। अब अपने हाथों को बाहर की तरह निकालते हुए इसे खोलें। फिर अपने हाथों को सीधा करके धीरे-धीरे नीचे की तरफ पैर को छूने की कोशिश करें। अब धीरे-धीरे अपनी कमर को नीचे की तरफ झुकाते हुए बिल्कुल नीचे की तरफ देखें।

अपनी हथेली हो जमीन पर रख दें और अपने उल्टे हाथ को धीरे-धीरे ऊपर की तरफ ले जाएं। यह प्रक्रिया दूसरी तरफ से भी दूर आई जा सकती है। इस योगासन को 5 से 10 बार नियमित रूप से करें इस के चमत्कारी लाभ देखने को मिलेंगे।

यह भी पढ़ें :

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.