नमक छिड़क कर फल खाने से हो सकते हैं ये 4 नुकसान

फल खाना सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। यह शरीर को हाइड्रेट रखने में मदद करता है। इसके सेवन से न सिर्फ त्वचा में चमक आती है, बल्कि फल शरीर को डिटॉक्सीफाई करने में भी काफी फायदेमंद होते हैं।

कुछ लोग स्मूदी बनाकर फलों का सेवन करते हैं, तो कुछ लोग इसे काट कर खाते हैं। लेकिन अक्सर लोग जब फल काटते और खाते हैं तो उसके साथ नमक का भी सेवन करते हैं।

फलों के साथ नमक का सेवन करने से फल के सारे तत्व खत्म हो जाते हैं और आप कई तरह की समस्याओं से घिरे रह सकते हैं। इसलिए फलों के साथ नमक खाना सही नहीं माना जाता है। तो आइए जानते हैं फल खाने पर नमक छिड़कने से होने वाले स्वास्थ्य नुकसान।

नमक छिड़क कर फल खाने से हो सकता है बहुत नुकसान

उच्च रक्तचाप – फलों में नमक का सेवन न केवल फलों की गुणवत्ता को कम करता है बल्कि उच्च रक्तचाप जैसी समस्या भी पैदा कर सकता है। हाई ब्लड प्रेशर से पीड़ित लोगों को वैसे भी ज्यादा नमक का सेवन करने से मना किया जाता है। ऐसे में फल में नमक डालकर नमक का सेवन करने से ब्लड प्रेशर को बढ़ाने में मदद मिलेगी।

गुर्दे से संबंधित समस्याएं – फलों में नमक का सेवन करने से किडनी की समस्या हो सकती है। दरअसल किडनी का काम हमारे शरीर से खून को साफ करना और शरीर में पानी और क्षार को संतुलित करके पेशाब बनाना है। लेकिन ऐसे में अगर आप ज्यादा नमक का इस्तेमाल करने लगेंगे तो इससे किडनी पर ज्यादा दबाव पड़ेगा। जिससे किडनी की समस्या हो सकती है।

फलों की गुणवत्ता में कमी :- फलों में नमक का सेवन करने से फलों की गुणवत्ता कम हो जाती है। इतना ही नहीं इन्हें इस तरह खाने से और भी कई समस्याएं हो सकती हैं। जिस फल का सेवन करना हो उसमें कभी भी नमक न डालें। अगर आप ऐसे फल खाते हैं तो ये ज्यादा फायदेमंद होते हैं।

स्किन एलर्जी का खतरा- फलों में नमक का सेवन करने से स्किन एलर्जी जैसी समस्या हो सकती है। दरअसल हम खाने में भी नमक का इस्तेमाल करते हैं और औसतन एक आदमी को सिर्फ 5 ग्राम नमक का ही सेवन करना चाहिए। लेकिन ऐसे में जब आप फलों पर नमक छिड़क कर खाते हैं तो इससे त्वचा पर एलर्जी भी हो सकती है।

निष्कर्ष : इस सामग्री में केवल सामान्य जानकारी है। यह किसी भी तरह से एक योग्य चिकित्सा राय को प्रतिस्थापित नहीं करता है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श लें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी की कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है। 

यह भी पढ़ें :–

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *