हाई यूरिक एसिड में सुबह सुबह इन तीन ड्रिंक का सेवन दर्द से छुटकारा दिला सकता है

आजकल लोगो में हाई यूरिक एसिड की समस्या देखने को मिलती है। विशेषकर के ठंडी के मौसम में बढ़ा हुआ यूरिक एसिड परेशानी खड़ा कर देता है। यूरिक एसिड एक तरह का मेटाबोलाइट है जो बॉडी में कोशिकाओं की लगातार टूटने से शरीर में हर दिन बनता रहता है।

ज्यादातर यूरिक एसिड केमिकल किडनी द्वारा सही ढंग से फिल्टर न हो पाने के कारण शरीर में जमा हो जाता है। अधिकांशत यह फिल्टर हो जाता है और शरीर से बाहर निकल जाता है। लेकिन जब इसी वजह से यह फिल्टर नहीं हो पाता है और शरीर में इसकी मात्रा बढ़ने लगती तब हमारे ब्लड में यूरिक एसिड का स्तर बढ़ जाता है।

जिसकी वजह से किडनी के फेल होने की संभावना बढ़ जाती है। इसके अलावा गाउट और आर्थराइटिस जैसी बीमारी होने का खतरा भी
कई गुना बढ़ जाता है। बड़े हुए यूरिक एसिड की वजह से हार्ट अटैक, किडनी फेलियर, मल्टीप्ल ऑर्गन फेलियर जैसी कई जानलेवा समस्याएं भी उत्पन्न हो जाती हैं।


ठंड के मौसम में हाई यूरिक एसिड की समस्या से पीड़ित मरीजों को अधिक परेशानियां होती है। क्योंकि ठंडी के मौसम में बड़े हुए यूरिक एसिड की वजह से जोड़ों में तेज दर्द और सूजन की समस्या उत्पन्न हो जाती है।


स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना है कि हाई यूरिक एसिड के मरीजों को अपने खानपान पर ध्यान देना चाहिए। जिससे इस समस्या को काफी हद तक नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि ठंड के मौसम में हाई यूरिक एसिड से पीड़ित मरीज यदि तीन ड्रिंक का सेवन करें तो इससे काफी फायदा मिलता है। इससे दर्द से छुटकारा मिल सकता है।

कॉफी का सेवन

हाई यूरिक एसिड सुबह सुबह कॉफी का सेवन करते हैं तो यह उनके लिए काफी फायदेमंद होता है। क्योंकि कॉफी में एक एंजाइम पाया जाता है जो यूरिक एसिड बनाने की प्रक्रिया को धीमा कर देता है।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार कॉफी में कैफीन की मात्रा पाई जाती है। यह यूरिक एसिड को कम करने में वैसे तो कोई भूमिका नहीं निभाती है लेकिन इसमें मौजूद अन्य दूसरे तत्व यूरिक एसिड को नियंत्रित करने में बेहद कारागार होते हैं।


अजवाइन का काढ़ा –


हाई यूरिक एसिड मरीजों के लिए सुबह के समय अजवाइन का काढ़ा पीना काफी फायदेमंद होता है। इसके लिए एक गिलास पानी में एक चम्मच अजवाइन डालकर 5 से 6 घंटे के लिए इसे भिगा कर रख देना चाहिए।


आप इसे रात में भी भिगा जा सकते हैं। इसके बाद इसे लगभग 15 मिनट तक उबालें और फिर इसे छानकर गुनगुना ही धीरे-धीरे चाय की तरह सेवन करे। इसका जबरदस्त लाभ देखने को मिलेगा। अजवाइन का पानी पीने से बढ़े हुए यूरिक एसिड की वजह से होने वाली सूजन में काफी आराम मिलता है।


करी पत्ता :-


कोई पत्ता का इस्तेमाल तो वैसे खाने के स्वाद को बढ़ाने के लिए किया जाता है। लेकिन यह हमारे सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। बढ़े हुए यूरिक एसिड की समस्या में करी पत्ता बहुत लाभदायक है।

यह यूरिक एसिड को नियंत्रित करने का काम करता है। इसके लिए एक गिलास पानी में 10 से 12 कड़ी पत्ता डालकर अच्छी तरह से पीस लेना चाहिए। फिर शरबत की तरह इसका सेवन करना चाहिए। यह ड्रिंक यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में मदद करती ही है। साथ ही इससे पाचन तंत्र भी बेहतर ढंग से काम करता है।

यह भी पढ़ें :–

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.