वजन कम करने में इमली का सेवन है फायदेमंद

आइए जानते हैं इमली के फायदे और नुकसान के बारे में :

इमली का नाम लेते ही बहुत से लोगों के मुंह में पानी आने लगता है। इमली का खट्टा मीठा स्वाद लोगों को बहुत पसंद होता हैम इमली के अंदर एंटीसेप्टिक गुण पाए जाते हैं जो कि हमारे सेहत को बेहतर बनाने में मददगार होते हैं।

अगर बात भारतीय व्यंजनों की करें तो पानी पूरी बनाने में या फिर खट्टी मीठी चटनी बनाने में इमली का प्रयोग किया जाता है।

इमली में विटामिन सी, विटामिन ए, कैल्शियम, फॉस्फोरस, पोटेशियम, मैग्नीशियम, आयरन जैसे तत्व भरपूर मात्रा में होने की वजह से यह हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है।

आइए जानते हैं किस तरीके से इमली का सेवन करके तंदुरुस्त रहा जा सकता है और इमली के क्या फायदे और क्या नुकसान होते हैं-

इमली की तासीर :-

इमली शरीर को ठंडक पहुंचाने का काम करती है। यह ठंडी तासीर की होती है। इसलिए अगर इसका अधिक मात्रा में सेवन किया जाता है तो यह सेहत के लिए अच्छी नही होती है, लेकिन अगर सीमित मात्रा में इसका सेवन किया जाता है तो यह सेहत को बहुत फायदा पहुंचाती है।

इमली के फायदे :-

इमली कई तरह के से हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होती है

बालों की समस्या को दूर करने में मददगार :-

मालूम हो कि हमारे सिर की त्वचा में सीबन नाम का एक उत्पाद बनता है और इमली का सेवन करने से इसे नियंत्रित करने में मदद मिलती है।

इससे बाल मजबूत बनते हैं और बालों का टूटना या झाड़ना भी कम होता है। इसके अलावा यह बालों को काला बनाए रखने में भी मदद करती है।

इमली के गुदे में छाछ और जैतून का तेल का अच्छी तरीके से इसका पेस्ट बनाकर बालों में लगाने से बाल काले बनते हैं। इस पेस्ट से 5 से 10 मिनट तक सिर में लगाकर मालिश करना फायदेमंद होता है। इसके बाद इसे शैंपू करके धूल ले, इससे बाल चमकदार नजर आने लगेंगे।

दिल के लिए फायदेमंद :-

इमली का सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल का स्तर नियंत्रित रखता है। इससे ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में मदद मिलती है।

 त्वचा का संक्रमण दूर करने में मददगार :-

इमली के अंदर भरपूर मात्रा में विटामिन सी और विटामिन बी होता है। इसके अंदर मुहासे की समस्या को खत्म करने के गुण भी होते हैं।

मुहासे में इमली के रस को, हल्दी पाउडर और ताजा दही के साथ मिक्स करके चेहरे पर लगाने से मुहासे की समस्या से छुटकारा मिलता है।

चेहरे पर किसी भी प्रकार के संक्रमण या निशान होने पर इमली के गुदे के साथ हल्दी मिलाकर चेहरे पर लगाने से त्वचा की डेड सेल्स निकल जाती है और दाग धब्बों से छुटकारा मिल जाता है।

वजन कम करने में मददगार :-

जो लोग अपने मोटापे और अधिक वजह से परेशान हैं, उन्हें इमली को अपनी डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए, जिससे उन्हें जिम जाने की जरूरत ही नही होगी और केवल इमली के सेवन से वजन कम हो जाएगा, क्योंकि इमली में भरपूर मात्रा में हाइड्रोसील एसिड पाया जाता है।

ऐसे में इमली का नियमित रूप से सेवन करने से भूख कम लगती है, इससे वजन कम करने में मदद मिलती है।

पीलिया रोग को दूर करने में मददगार :-

जब शरीर में पीलिया हो जाता है, तब लीवर में लाल रक्त कोशिका में बिलीरुबिन अधिक मात्रा में बनने लगता है, जिससे त्वचा, आंख और मूत्र का रंग पीला पड़ जाता है।

यह भी पढ़ें :- Immune System बूस्ट करने के साथ शरीर की इन परेशानियों को दूर करती हैं अजवाइन की पत्तियों का सेवन

इमली का सेवन करने से बिलुरुबिन को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। इमली का पानी का सेवन करने से बुखार, सर दर्द को दूर करने में मदद मिलती है। इमली के फूल और पत्तियों को अच्छी तरीके से उबालकर पीने से पीलिया में भी आराम मिलता है।

आंखों के लिए फायदेमंद :-

इमली के पानी का सेवन करने से आंखों में जलन और आंख में होने वाले दर्द से राहत मिलती है। इमली को दूध के साथ आंखों के पलकों पर लगाने से राहत मिलती है।

इमली सेवन के तरीके :-

  • भारतीय व्यंजनों में इमली से डोसा, सांभर आदि मनाया जाता है। इसमें इमली के पानी का इस्तेमाल होता है।
  • जुखाम, गले में दर्द, बुखार की समस्याओं में भी यह फायदेमंद होती है। ठंड से बचने के लिए काली मिर्च के पाउडर में इमली मिलाकर सेवन करना लाभदायक होता है।
  • इमली और खजूर की चटनी बनाकर खाई जा सकती है।
  • गर्भवती महिलाओं द्वारा इमली की कैंडी का सेवन करने से पाचन में सुधार होता है और जी मिचलाना, उल्टी जैसी समस्याओं को दूर करने में मदद मिलती है।

इमली के नुकसान :-

  • गले में खराश होने पर ज्यादा मात्रा इमली का सेवन करना परेशानी को बढ़ा देता है क्योंकि इमली के अंदर अमलीय पदार्थ पाया जाता है।
  •  इमली में विटामिन सी भरपूर मात्रा में होती है ऐसे में इमली का अधिक सेवन करने से ब्लड में एस्ट्रोजन हार्मोन का स्तर बढ़ने लगता है, जिससे ब्लीडिंग की समस्या बढ़ जाती है।
  •  कुछ लोगों को इमली से एलर्जी होती है। ऐसे में इमली का सेवन करते है चक्कर, खुजली, सांस फूलने जैसी समस्याएं होती हैं। ऐसे लोगों को इमली के सेवन से दूर रहना चाहिए।
weight loss

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.