शरीर में दिखने वाले ये सामान्य लक्षण हो सकते हैं गंभीर बीमारी का संकेत, न करें नजरअंदाज

अच्छे स्वास्थ्य के लिए हमें शरीर में होने वाले छोटे-छोटे बदलाव का ध्यान रखना चाहिए और इन्हें नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। क्योंकि कई बार शरीर पर दिखने वाले यह बदलाव जब हम नजर अंदाज करने लगते हैं तो किसी गंभीर बीमारी के शिकार होने की संभावना बढ़ जाती है। क्योंकि शरीर में दिखने वाले यह लक्षण शरीर में होने वाली बीमारी का शुरुआती संकेत होते हैं।

 इस विषय में फिजीशियन डॉ अनिल त्यागी का कहना है कि शरीर की चमड़ी पर दिखने वाले लक्षणों पर गौर करना चाहिए क्योंकि शरीर के अंदर जो बीमारी पनप रही होती है उसका सबसे पहले उसके लक्षण शरीर की चमड़ी पर ही देखने को मिलता है। अगर सही समय पर सही इलाज मिल जाता है तो बीमारी से बचा जा सकता है।

 डॉक्टर बताते हैं कि अक्सर देखा जाता है कि कुछ लोग सुबह उठते हैं तो उनका मुंह सूजा हुआ दिखाई देता है या फिर कुछ लोग थोड़ा सा चलने पर ही उन्हें सांस फूलने की समस्या होने लगती है।

यह सारे लक्षण किसी ना किसी बीमारी के शुरुआती लक्षण है। ऐसे में इस तरह की परेशानी से बचने के लिए सही समय पर उनके लक्षणों की पहचान करके इलाज करना जरूरी है। आज हम जानेंगे शरीर में दिखने वाले कुछ लक्षण जो गंभीर बीमारियों के शुरुआती लक्षण हो सकते हैं।

चेहरे शरीर पैर और अंगुलियों पर सूजन – 

डॉक्टर का कहना है कि कई लोग सुबह जब सोकर उठते हैं तो उनका चेहरा फूला हुआ दिखाई देता है। सूजा फेस कहा जाता है। चेहरे पर सूजन का मतलब है कि किडनी से जुड़ी कोई समस्या उत्पन्न हो रही है।

 वहीं यदि शरीर में सूजन आती है तो उसे खून की कमी के तौर पर समझा जाता है। अगर लेटने पर भी पैरो में सूजन की समस्या हो रही है तो यह शरीर में प्रोटीन की कमी का संकेत है। वही गठिया होने पर उंगलियों में सूजन की समस्या देखने को मिलती है।

पेट फूलना –

आज के समय में पेट फूलना एक बहुत ही कॉमन समस्या बन गई है। ज्यादातर लोगों को यह समस्या देखने को मिलती है। आमतौर पर लोग मानते हैं कि पेट फूलने की समस्या पेट में गैस बनने की वजह से होती है। लेकिन हर बार यह गैस बनने की वजह से हो यह जरूरी नहीं होता है।

 डॉक्टर का मानना है कि पेट फूलना गैस की वजह से हो सकता है लेकिन उसके अलावा भी इसके कारण हो सकते हैं जैसे कि लीवर में कोई समस्या उत्पन्न होना। अगर पेट फूलने की समस्या बार-बार हो रही है तब इसके लिए जल्दी से डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

मुंह सूखना – 

मुंह सूखने की समस्या भी कई वजह से होती है। अगर आप पर्याप्त मात्रा में पानी पी रहे हैं इसके बावजूद मुंह में सही मात्रा में लार नहीं बन पा रही है और मुंह सुखा सुखा लग रहा है तब यहां किसी सिंड्रोम का कारण हो सकता है।

यह सिंड्रोम की वजह से मुंह सूखना और ड्राई आई जैसे समस्याएं देखने को मिलती है। यह इम्यून डिसऑर्डर की वजह से होता है। इसमें आंखें बहुत ड्राई हो जाती है और मुंह सूखने लगता है। ऐसे में इसे गर्मी का प्रकोप नहीं समझना चाहिए बल्कि यह sjogren’s syndrome की वजह से होता है।

छाती में दर्द होना – 

अक्सर कुछ लोगों को छाती में दर्द की समस्या देखने को मिलती है और लोगों से गैस का दर्द समझ सामान्य समस्या समझ लेते हैं। लेकिन डॉक्टर का कहना है कि गैस का दर्द और हार्ट के दर्द के अंतर को समझना जरूरी है। हार्ट अटैक के दर्द में बेचैनी महसूस होती है। छाती में दर्द होना हार्ट अटैक और गैस दोनों समस्याओं का संकेत है।

 थोड़ा सा चलने पर सांस फूलना –

कुछ लोगों को सीढियाँ चढ़ते और उतरते समय या फिर थोड़ा सा चलने से मिलने पर ही सांस फूलने लगती है। डॉक्टर का कहना है कि सांस फूलने की समस्या कई वजह से होती है जिसमें खून की कमी होना एक आम समस्या है।

दूसरे कारण सीओपीडी है। अगर नॉर्मल चलने पर भी सांस फूलने की समस्या बताई जा रही है तो यह हृदय के सही ढंग से पम्प न करने और फेफड़े में ऑक्सीजन की कमी की वजह से हो सकता है।

मिट्टी खाने का मन करना  –

डॉक्टर का कहना है कि छोटे बच्चे और प्रेग्नेंट महिलाओं को मिट्टी खाने की आदत देखने को मिलती है। यह आदत शरीर में आयरन की कमी की वजह से ही होती है। आयरन की कमी, फोलिक एसिड और विटामिन की कमी इसका लक्षण का प्रमुख कारण है।

 हमारे शरीर की चमड़ी हमारे अंदर क्या हो रहा है इस बारे में पूरी जानकारी देती है। इसलिए हमें अपने शरीर में होने वाले बदलाव पहचान करनी चाहिए और किसी भी तरह की समस्या होने पर डॉक्टर से संपर्क करके इलाज करना चाहिए

यह भी पढ़ें :बच्चों में ऐसे करें कोरोना वायरस की पहचान यह लक्षण दिखे तो तुरंत हो जाएं सावधान

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.