तेजपत्ता से होने वाले फायदे: इन फायदों के बारे में जानकर हो जायेगा आप हैरान

तेजपत्ता एक आयुर्वेदिक औषधि है, जिसमे कई अनगिनत गुण पाए जाते है जैसे की तेजपत्ता सिर दर्द, जुकाम , दमा जैसी बीमारियो में राहत दिलाने में काफी मदद करता है । तेजपत्ता का उपयोग भारत के हर रसोई घर में मसाले के रूप में किया जाता है क्योंकि यह खाने में स्वाद और खुशबू बढाने के लिए डाला जाता है,तेजपत्ता में कई प्रकार के एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते है।

तेजपत्ता से होने वाले फायदे

कैंसर रोग के बचाव में सहायक कैंसर जैसी बीमारी से जिस भी प्रकार का व्यक्ति पीड़ित है, वह यह बहुत अच्छे से जानता है की इस बीमारी का कोई इलाज अभी संभव नही है। वैज्ञानिकों ने बहुत रिसर्च की पर अभी तक कैंसर जैसी बीमारी का सटीक इलाज नही ढूंढ पाए है लेकिन हा अगर आप अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखते है और नियमित रूप से व्यायाम करते है तो आप कैंसर जैसे रोग से बच सकते है, एक अध्ययन के अनुसार यह पता चला है की तेजपत्ता के गुण पेट के कैंसर को खत्म कर सकते है ।

जख्म ठीक करने में सहायकअगर आपको किसी भी प्रकार की चोट लग जाती है तो आप तेजपत्ता का उपयोग कर सकते है, एक अध्ययन के अनुसार यह पता चला है की तेजपत्ता का अर्क घाव को भरने में ब कनेक्टीव टिश्यू को विकास करने में मदद करता है साथ ही साथ तेजपत्ता जटिल रसायनिक क्रियाओं को भी बढ़ा सकता है ।

वजन कम करने में तेजपत्ता के फायदे अगर आपका वजन बहुत तेजी से बढ़ रहा है या आपका वजन बहुत ज्यादा है तो आप तेजपत्ता का इस्तेमाल करके अपना वजन आसानी से कम कर सकते है क्योंकि तेजपत्ता में बहुत सी जड़ी बूटी शामिल है जो आपकी भूख को नियंत्रित करता है और अतरिक्त कैलोरी लेने से बच सकता है लेकिन इस बात की अभी पुष्टि नहीं हुई है।

त्वचा के लाभ तेजपत्ता में बहुत से एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते है, तेजपत्ता का उपयोग कीड़ों , मच्छरों से सुरक्षा पाने में बहुत मददगार है तेजपत्ता त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद है ,इससे निकलने वाले तेल का उपयोग साबुन , क्रीम इत्यादि में करते है जो त्वचा को गहराई से साफ करता है त्वचा के लिए तेजपत्ता बहुत लाभदायक है यह एक रिसर्च से पता चला है ।

डायबिटीज के लिए तेजपत्ता के लाभ जिस भी व्यक्ति को मधुमेह की समस्या हो वह तेजपत्ता का उपयोग करके मधुमेह की समस्या से हमेशा के लिए निजात पा सकता है ।एक रिसर्च के अनुसार यह ज्ञात हुआ है की तेजपत्ता युक्त कैप्सूल का सेवन इंसुलिन के स्तर में बहुत सुधार करता है जिससे रक्त में ग्लूकोज की मात्रा घाट जाती है और रोगी डायबिटीज जैसी बीमारी से बच सकता है।

तेजपत्ता के उपयोग

1: अगर आप ब्लैक टी का सेवन करते है तो आपको उसमे तेजपत्ता का इस्तेमाल करना चाहिए जिससे आपका स्वास्थ्य बहुत उत्तम रहेगा ।

2: तेजपत्ता को मीठी खीर में भी डाला जाता है जिससे उसमे खुशबू बढ़ जाती है।

3: तेजपत्ता एक ऐसा मसाला है, जिसका उपयोग आप अपने घर में बनने वाले व्यंजनों में कर सकते है जैसे बिरयानी ,पुलाव में जायका बढ़ाने के लिए आप तेजपत्ता का उपयोग कर सकते है ।

4:अगर आपको सर्दी और जुकाम जैसी बीमारी है तो आप तेजपत्ता का इस्तेमाल करके इनसे राहत पा सकते है ,इसके लिए आपको सबसे पहले पानी गर्म करना पड़ेगा और उसमे तेजपत्ता को उबालकर पी सकते है

5: तेजपत्ता का उपयोग करके आप पाचन जैसी बीमारियों से हमेशा के लिए निजात पा सकते है ।

तेजपत्ता के नुकसान

तेजपत्ता के फायदे तो मैने अभी आपको बताए है तो अब जानते है तेजपत्ता से होने वाले नुकसान के बारे में

1: जिस भी व्यक्ति को मधुमेह है, वह तेजपत्ता के सेवन करके इससे राहत पा सकता है पर तेजपत्ता का सेवन डॉक्टर की देखरेख में ही करना चाहिए वरना आपको नुकसान पहुंच सकता है ।

2: तेजपत्ता के ऑयल से एलर्जी भी हो सकती है क्योंकि तेजपत्ता से निकलने वाला ऑयल संवेदनशील त्वचा पर एलर्जी का कारण बन सकता है ।

3: किसी भी प्रकार की सर्जरी से पहले तेजपत्ता का उपयोग बिल्कुल भी नही करना चाहिए ।

4: गर्भावस्था के दौरान तेजपत्ता का इस्तेमाल डॉक्टर से पूछ कर ही करे।

5: इसकी पत्तियों का ज्यादा सेवन करने से यह केंद्रीय तंत्रिका तंत्र को धीमा कर देता है ।

लेखक : कुशाग्र मिश्रा

यह भी पढ़ें :

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.