Covid-19 महामारी में Lungs ko strong बनाने के लिए घर पर करें ये योगासन

कोरोना वायरस की दूसरी लहर का प्रकोप देखा जा रहा है। लोगों के मन में फिर से कोरोना वायरस को लेकर चिंता और भय नजर आने लगा है। कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों में सबसे ज्यादा प्रभाव जिस चीज पर पड़ रहा है इसमें सांस लेने की समस्या अधिक है।

हर दिन लाखो की संख्या में नए मामले लोगों की चिंता को बढ़ा दिए है। लोग घर में रहना चाहते हैं, बाहर निकलने से डर रहे हैं। अगर आप भी इस महामारी के दौर में फेफड़े को स्वस्थ रखना चाहते हैं तो इसमें योगा बहुत मददगार हो सकता है।

फेफड़े को मजबूत बनाने के लिए घर पर ये योग किए जा सकते हैं, आइए जानते हैं उनके बारे में विस्तार से –

फेफड़ों को मजबूत बनाने के लिए योगासन:-

स्वास्थ्य से जुड़ी समस्या दूर करता है चक्रासन –

चक्रासन योगा का एक प्रकार है जो लीवर को मजबूत बनाता है। यह पैंक्रियाज और किडनी को स्वस्थ रखता है, साथ ही शरीर में लचीलापन लाता है। जिन लोगों को फेफड़े से जुड़ी परेशानियां जैसे श्वास ठीक से न ले पाना जैसी समस्या है उनके लिए चक्रासन बहुत फायदेमंद होता है।

यह डायबिटीज के रोगियों के लिए भी फायदेमंद है। कोरोना वायरस का खतरा डायबिटीज के रोगियों को अधिक है। ऐसे में यदि वह इस चक्रासन को करते हैं तो उनके फेफड़े मजबूत होंगे और डायबिटीज को नियंत्रित करने में मदद मिलेगी। इससे हृदय की मांसपेशियां भी मजबूत होती है।

चक्रासन करने का तरीका – 

  • सबसे पहले योगा मैट पर पीठ के बल लेट जाए
  •  आप अपने दोनों पैरों के घुटने को मोड़ ले।
  • अपने हाथ को अपने हिप्स के पास तक ले आये।
  •  अब दोनों हाथों को उठाते हुए अपने कान के बगल में जमीन पर रख ले।
  •  अपनी उंगलियों को कंधे की तरफ रखें
  •  गहरी सांस लेते हुए अपने हाथों  को जमीन पर रखे
  • अब शरीर के ऊपरी हिस्से को ऊपर की तरफ उठाएं।
  •  इस आसन में आपके हाथ और पैर जमीन पर रहेंगे और कमर व छाती को ऊपर हवा में रखें।
  •  अब धीरे-धीरे सांस छोड़ते हुए वापस उसी मुद्रा में आए और अपनी कमर को आराम दे।

अंजनी आसन – 

इस आसन को करने से हमारे चेस्ट के आस पास वाले सभी मांसपेशियां खुल जाती हैं। इससे हमारा पाचन तंत्र बेहतर हो जाता है। कोरोना वायरस महामारी के दौर में जिन लोगों को दस्त से जुड़ी समस्या हो रही है उनके लिए यह योगासन बहुत फायदेमंद है।

इस महामारी के दौर में लोगों में स्ट्रेस और चिंता है। ऐसे में यदि वह यह योग आसन को करते हैं तो इससे स्ट्रेस और चिंता को कम करने में मदद मिलती है। यह योगासन हमारे पैरों के घुटने जांघों को मजबूत करता है। इससे हमारे कंधे और फेफड़े भी मजबूत होते हैं।

करने का तरीका –

  •  इस आसन को करने के लिए अपने दोनों पैरों में जंप करते हुए थोड़ा गैप बनाले
  •  अब अपने दोनों हाथों को अपने कमर के पास ले जाएं
  • अपने शरीर को दाएं तरफ घुमा ले
  • अब इसके बाद आप पीछे वाले पैर के घुटने को जमीन पर रखें और आगे वाली पैर को 90 डिग्री से थोड़ा कम रखें
  •  घुटना आसमान की तरफ रखें
  • अब सांस लेते हुए दोनों हाथों को ऊपर की तरह ले जाये और अपनी बॉडी के ऊपर वाले हिस्से को पीछे की तरफ झुकायें।
  • इस आसन को 10 से अधिक सेकंड तक करे।
  •  इसके बाद पुनः वापस उसी मुद्रा में आ जाएं।

मत्स्यासन –

कोरोना वायरस महामारी के दौर में फेफड़े सबसे ज्यादा प्रभावित होते हैं। फेफड़े को मजबूत बनाने के लिए, पसलियों को और फेफड़े को मजबूत बनाना जरूरी है। इस योग आसन को करने से पसलियों को खोलने और फेफड़े की आस पास की मांसपेशियों में खिंचाव लाकर उन्हें मजबूत करने में मदद मिलती है।

जिन लोगों को सांस से जुड़ी परेशानियां होती है उनमें इस योग आसन को करने से यह परेशानी दूर हो जाती है। इस योग आसन को करने से रीढ़ की हड्डी में लचीलापन आता है। जिन लोगों को कफ़ की समस्या है उन लोगों के लिए भी यह योगासन बहुत फायदेमंद है।

करने का तरीका  –

  • सबसे पहले योगा मैट पर पीठ के बल लेट जाएं और अपने दोनों पैरों को वापस मिला ले
  •  अपने दोनों हाथों को जांघों के बगल की जमीन पर सीधा रखें
  • अब अपनी कमर, गर्दन को जमीन पर एक सीध में रखकर एकदम रिलैक्स करें
  •  अब सांस लेते हुए अपने चेस्ट के ऊपरी हिस्से को आसमान की तरफ उठाएं
  • अपने अपने दोनो हाँथों की कुहनियों का सहारा लेते हुए अपने हिप्स को जमीन पर रखें और चेस्ट वाले हिस्से को ऊपर उठाएं।
  •  इस दौरान पैर जमीन पर रहेगा और रीड की हड्डी में कर्व जैसा होगा। सामान्य सांस लेते हुए वापस प्रारंभिक मुद्रा में आ जाए
  • इस आसन की मुद्रा को 5 से 10 सेकंड करें।

कोरोना वायरस महामारी के दौरान आयुर्वेदिक अहमियत बढ़ती जा रही है। लोग इस महामारी से बचने के लिए काढ़ा जैसे कोई घरेलू उपाय की तरह अपना रहे हैं। योग एक ऐसी दवा है जो बिना साइड इफेक्ट के फायदा पहुंचाती है। कोरोना टाइम में योगा के माध्यम से फेफड़े को स्वस्थ और मजबूत बनाया जा सकता है।

यह भी पढ़ें : ब्लड शुगर को कंट्रोल में रखता हैं शहतूत (Mulberry) इम्यून सिस्टम भी होता है बूस्ट

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.