बीमारियों से दूर और स्वास्थ्य रहने के लिए अपनाये ये आदतें

7 अप्रैल को हर साल विश्व स्वास्थ्य दिवस मनाया जाता है। जिससे लोगों को बढ़ती स्वास्थ्य समस्याओं के लिए जागरूक किया जा सके। स्वास्थ्य दिवस मनाने का उद्देश्य स्वस्थ जीवन को बढ़ावा देना है। एक स्वस्थ जीवन जीना कठिन काम नहीं है।

लेकिन इसके लिए कुछ प्रतिबद्धताओं और नियमित प्रयासों को करने की जरूरत होती है। यह प्रयास बहुत बड़े बड़े नहीं हैं। यह प्रतिदिन जीवन में कुछ ऐसे छोटे-छोटे बदलाव से जुड़े हैं जिन्हें अपनाने से स्वस्थ रहा जा सकता है। आइए जानते हैं विश्व स्वास्थ्य दिवस पर बीमारियों से दूर और स्वस्थ रहने के लिए अपनाई जाने वाली अच्छी आदतों के बारे में

रोजाना नाश्ता करें

सुबह का नाश्ता बहुत ही महत्वपूर्ण होता है। अच्छे दिन की शुरुआत करने के लिए अच्छा और स्वस्थ नाश्ता करना जरूरी है। नाश्ते से दिन भर के लिए ऊर्जा मिलती है।

ध्यान रहे नाश्ते में केवल स्वस्थ चीजों को शामिल करें जिनमें पोषक तत्व भरपूर मात्रा में हो। कभी भी नाश्ते में उन चीजों को शामिल न करें जो भारी हो या तैलीय oily हो।

रोज एक्सरसाइज करें –

अधिकांश लोग अपना व्यायाम (एक्सरसाइज) रोजाना skip कर देते हैं। नियमित रूप से एक्सरसाइज नहीं करते हैं। यदि आप स्वस्थ रहना चाहते हैं तो नियमित रूप से एक्सरसाइज को अपनी दिनचर्या में शामिल करें।

स्वस्थ रहने के लिए कम से कम 30 मिनट एक्सरसाइज करना बहुत ही आवश्यक है। व्यायाम (एक्सरसाइज) करे और आलस से बाहर निकले।

आहार पर विशेष ध्यान दें

आप जो भी कुछ खाते हैं उसी पर आपका स्वास्थ्य निर्भर करता है। अपने आहार पर ध्यान देना जरूरी है। इसलिए आप क्या खा रहे हैं क्या नहीं खा रहे हैं इस पर ध्यान दें।

अपनी दिनचर्या बनाएं और अपने आहार में कुछ पोषकतत्वों को जरूर शामिल करें जैसे ताजे फल, सब्जियां, अनाज, नट्स, डेयरी उत्पाद, पत्तेदार साग आदि। संतुलित आहार से ही सही मात्रा में हर पोषण प्राप्त होता है।

डिटॉक्स करने की कोशिश करें

शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालने के लिए शरीर को डिटॉक्स करना बहुत ही जरूरी होता है। अगर आप स्वस्थ रहना चाहते हैं और आपके अंग सही ढंग से काम करें तो नेचुरल तरीके से अपनी बॉडी को समय-समय पर डिटॉक्स करते रहें।

इसके लिए लहसुन, साइट्रिक खाद पदार्थ और कुछ प्राकृतिक जड़ी बूटियों का सेवन किया जा सकता है। यह ऐसे तत्व होते हैं जो शरीर को डिटॉक्स कर देते हैं और खुद का डिटॉक्स वाटर भी तैयार कर लेते हैं।

प्रोटीन का सेवन करें – 

अक्सर लोग कितनी मात्रा में प्रोटीन ले रहे हैं इसका ध्यान नहीं देते हैं। प्रोटीन हमारे शरीर के विकास के लिए बेहद जरूरी है। यह मानव शरीर के लिए ईंधन की तरह काम करता है।

पर्याप्त नींद लें

रोजाना पर्याप्त मात्रा में नींद लेना जरूरी है। अगर ठीक से नींद नहीं ली जाती है तो इसका असर शरीर पर पड़ता है। इसलिए नींद लेना बेहद जरूरी है। नींद की गलत आदतों की वजह से हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा जैसी बीमारियां होने का जोखिम बढ़ जाता है। एक स्वस्थ व्यक्ति के लिए कम से कम 8 घंटे की अच्छी नींद लेना आवश्यक है।

इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स का इस्तेमाल सीमित करें

आजकल लोग इलेक्ट्रॉनिक गेजेट्स जैसे फोन, लैपटॉप, आईपैड का इस्तेमाल ज्यादातर समय करते रहते हैं। लेकिन बहुत ज्यादा तकनीक का इस्तेमाल करने से सेहत पर हानिकारक प्रभाव पड़ता है।

इससे आंखों को नुकसान होता है साथ ही इससे मानसिक स्वास्थ्य भी प्रभावित होता है। इसलिए हमेशा कोशिश करें कि इन इलेक्ट्रॉनिक गेजेट्स को एक सीमित मात्रा में ही उपयोग करें।

मानसिक स्वास्थ्य पर ध्यान दें

जितना जरूरी शारीरिक स्वस्थ होता है उतना ही महत्वपूर्ण मानसिक स्वास्थ्य ही होता है। ज्यादातर लोग मानसिक स्वास्थ्य की उपेक्षा कर देते हैं। लेकिन एक स्वस्थ जीवन जीने के लिए शारीरिक रूप से स्वस्थ होने के साथ मानसिक रूप से भी स्वस्थ होना जरूरी है। इससे मन को शांत करने के लिए नियमित रूप से सांस लेने का अभ्यास कर सकते हैं।

जितना ज्यादा तनाव मुक्त रहेंगे उतना ज्यादा मानसिक रूप से स्वस्थ रहेंगे। अगर किसी भी तरह की कोई समस्या हो तो बिना किसी हिचकिचाहट मनोवैज्ञानिक से सलाह जरूर ले।

दोस्तों आपको हमारा यह आलेख कैसा लगा हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताये। अगर आपको किसी भी विषय पर जानकारी चाहिए हो तो उसके बारे में भी हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते हैं। हम अपनी पूरी कोशिश करेंगे कि आपके विषय पर आवश्यक जानकारी ले कर आये।

यह भी पढ़ें :–

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.