Low Blood Pressure के कारण और इसे ठीक करने के घरेलू नुस्खे

अक्सर देखा जाता है कि कुछ लोगों में बार बार चक्कर आना, कमजोरी जैसा महसूस होना जैसी समस्या देखी जाती है। बिना वजह चक्कर और कमजोरी महसूस होना, लो ब्लड प्रेशर के लक्षण हो सकते हैं।

लो ब्लड प्रेशर उस समस्या को कहते हैं जब हमारा ब्लड प्रेशर सामान्य ब्लड प्रेशर की तुलना में कम हो जाता है। मेडिकल साइंस की भाषा में इसे हाइपोटेंशन भी कहा जाता है।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार एक स्वस्थ इंसान का सामान ब्लड प्रेशर 120/80 mmHg से 90/60 mmHg के बीच रहता है। अगर किसी का ब्लड प्रेशर इस न्यूनतम बिंदु से कम पाया जाता है तो उस स्थिति को लो ब्लड प्रेशर या फिर हाइपोटेंशन कहा जाता है।

भारत में अधिकांश महिलाएं हाइपोटेंशन की समस्या से पीड़ित हैं। हाइपरटेंशन की समस्या को ज्यादा लंबे समय तक इग्नोर करने से सेहत पर विपरीत असर पड़ता है।

 जब कभी अधिक कमजोरी और थकान महसूस हो तो डॉक्टर से जरूर संपर्क करें। हाइपोटेंशन की वजह से दिल से जुड़ी बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है। आज हम जानेंगे हाइपरटेंशन के कारण लक्षण और बचाव के तरीके –

लो ब्लड प्रेशर के कारण (Causes of Hypotension in Hindi )

हाइपोटेंशन अर्थात लो ब्लड प्रेशर के कई कारण हो सकते हैं। आइये जानते हैं इसके प्रमुख कारण के बारे में :-

  • तनाव या असुरक्षा की भावना महसूस करना
  • शारीरिक कमजोरी होना
  •  डिहाइड्रेशन के कारण
  •  शरीर में ब्लड की मात्रा का कम हो जाना
  •  इंटरनल ब्लीडिंग होना
  • चोट लगने की वजह से अत्यधिक खून निकल जाना
  • गर्भावस्था में भी लो ब्लड प्रेशर की समस्या पाई जाती है
  • हाई ब्लड प्रेशर की अत्यधिक दवा का सेवन करना
  •  डिप्रेशन होना
  • हृदय रोग होना
  •  एलर्जी आदि

हाइपोटेंशन के लक्षण (Symptoms of Hypotension in Hindi) :-

लो ब्लड प्रेशर की समस्या में मरीज में निम्नलिखित लक्षण देखने को मिलते हैं। अगर यह लक्षण किसी में नजर आए तो यह लो ब्लड प्रेशर की वजह से हो सकता है –

  • बार बार चक्कर आना
  •  धुंधला दिखाई देना
  •  बेचैनी जैसा महसूस होना
  • शारीरिक कमजोरी लगना
  •  थकान बनी रहना
  • मिचली आना
  • अत्यधिक ठंड लगना
  •  अत्यधिक पसीना होना
  •  नाडी कमजोर होना
  •  सांस लेने में दिक्कत होना

यह सब लक्षण लो ब्लड प्रेशर की तरफ संकेत करते हैं। लो ब्लड प्रेशर का इलाज घरेलू उपाय द्वारा किया जा सकता है। आइए जानते हैं लो ब्लड प्रेशर के घरेलू इलाज के बारे में –

हाइपोटेंशन के घरेलू उपचार (Home Remedies for Hypotension in Hindi ) : –

ब्लैक कॉफी का सेवन –

लो ब्लड प्रेशर की समस्या में ब्लैक अर्थात डार्क कॉफी का सेवन करने से तुरंत इस समस्या को ठीक किया जा सकता है। इसके लिए एक चम्मच कॉफी पाउडर को एक कप गर्म पानी में डालें और उसमें आवश्यकतानुसार चीनी डालें।

इसे मिक्स करके धीरे-धीरे पिए। लो ब्लड प्रेशर की समस्या जब तक ठीक न हो जाए तब तक नियमित रूप से ब्लैक कॉफी पीना फायदेमंद होता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञ भी लो ब्लड प्रेशर से ग्रसित लोगों को अपनी डाइट में ब्लैक कॉफी को शामिल करने की सलाह देते हैं।

ब्लैक कॉफी के फायदे –

ब्लैक कॉफी काफी हद तक लो ब्लड प्रेशर की समस्या को ठीक कर देता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार खाना खाने के बाद लो ब्लड प्रेशर की समस्या वाले मरीजों को कॉफी का सेवन करना चाहिए।

कॉफी में कैफीन पाया जाता है जो कि लो ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मददगार है। अचानक पोजीशन बदलने के कारण भी लो प्रेशर की समस्या देखने को मिलती है।

ऐसे में डार्क काफी बहुत फायदेमंद है। हालांकि ब्लैक कॉफी का सेवन करने से पहले एक बार डॉक्टर से जरूर सलाह ले ले और कॉफी पीने की मात्रा को तय करें।

नमक का घोल –

लो ब्लड प्रेशर में पानी चीनी और नमक को अच्छी तरह से मिला कर इस घोल को बार-बार पीते रहें। इससे थोड़ी ही देर में मरीज बेहतर महसूस करने लगेंगे। इसके लिए एक गिलास पानी में आधा चम्मच चीनी और आधा चम्मच नमक मिलाकर अच्छी तरीके से घोल ले और धीरे धीरे पिये।

नमक चीनी के घोल के फायदे –

ज्यादातर स्वास्थ्य विशेषज्ञ लो ब्लड प्रेशर की समस्या में नमक, पानी, चीनी का घोल पीने की सलाह देते हैं। नमक पानी का घोल लो ब्लड प्रेशर की समस्या में सबसे असरकारी होता है।

जो लोग न्यूरली मोडिएटेड हाइपोटेंशन से पीड़ित होते हैं उनके लिए यह बहुत फायदेमंद है। इसमें सभी समस्याओं में नमक चीनी पानी का घोल तुरंत असर दिखाता है और ब्लड प्रेशर को बढा देता है।

तुलसी का पत्ता – 

लो ब्लड प्रेशर की समस्या में तुलसी के 8 – 10 पतियों को एक कप पानी में उबाल लें। उसमें एक छोटा नींबू में लाएं। फिर इस काढ़े को  चाय की तरह पिये। इससे भी लो ब्लड प्रेशर में जल्दी आराम मिलता है।

तुलसी के फायदे –

तुलसी में कई औषधीय गुण पाए जाते हैं। यह लो प्रेशर के समस्याओं को भी कंट्रोल करने में मददगार होता है। हाल में हुए एक शोध में  से यह पता चलता है ।

महिलाओं में होने वाली हाइपरटेंशन की समस्या को कम करने में तुलसी का रस बहुत फायदेमंद है। तुलसी का सेवन करने से ब्लड प्रेशर को बढाने में मदद मिलती है।

यह भी पढ़ें :- Cycling करने से वजन कम करने के साथ ही शारीरिक और मानसिक तनाव से मिलती है राहत

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.