ब्लड शुगर को कंट्रोल में रखता हैं शहतूत (Mulberry) इम्यून सिस्टम भी होता है बूस्ट

शहतूत के फायदे ( Mulberry benefits in Hindi ) :

शहतूत अपने अनोखे आकार के साथ-साथ खाने में भी बहुत ही स्वादिष्ट होता है यह ब्लड शुगर को कंट्रोल करने के साथ इम्यून सिस्टम को भी बूस्ट करता है। इसमें पोटेशियम, कैल्शियम, आयरन, फाइबर जैसे माइक्रोन्यूट्रिएंट्स तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। इसके अलावा शहतूत विटामिन सी और ग्लूकोज का भी एक अच्छा स्रोत माना जाता है।

 गर्मियों के मौसम में शरीर को पानी की अधिक आवश्यकता होती है। ऐसे में शहतूत का सेवन फायदेमंद होता है। इस फल में लगभग 91% तक पानी होता है। इसका सेवन करने से शरीर में पानी का संतुलन बना रहता है और बॉडी हाइड्रेट रहती है।

इसमें पाया जाने वाला है एंटी ऑक्सीडेंट तत्व ब्लड को प्यूरिफाई करता है जिन लोगों को कब्ज की शिकायत रहती है या फिर खून की कमी (एनीमिया) की शिकायत है उनके लिए शहतूत का सेवन फायदेमंद होता है।

जो लोग शहतूत का सेवन करते है उनका पाचन तंत्र भी बेहतर रहता है। इसके फल के अलावा इसकी पत्तियां भी स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं। आइये जानते हैं शहतूत के फायदे के बारे में –

शहतूत है एंटी ऑक्सीडेंट का स्त्रोत ( Mulberry is an anti-oxidant source ):

शहतूत के पत्ते और फल में एंटीऑक्सीडेंट फ्री रेडिकल्स से होने वाले नुकसान से शरीर की रक्षा करते हैं। टेक्स्टाक्स के हेल्थ साइंस सेंटर यूनिवर्सिटी द्वारा एक शोध प्रकाशित किया गया था, जिसमें बताया गया था कि एंटीऑक्सीडेंट्स लंबी उम्र जीने में मददगार रहते हैं। इंडियन एक्सप्रेस अखबार में भी बताया गया है कि शहतूत के जूस में एंटी ऑक्सीडेंट संतरे के जूस से भी ज्यादा लगभग दुगना होते हैं।

शहतूत के अंदर पाया जाने वाला यौगिक शरीर में ब्लड शुगर के स्तर को संतुलित करता है। चीन की कई पारंपरिक दवाओं में ब्लड शुगर को नियंत्रित करने के लिए शहतूत के पत्तों के इस्तेमाल से दवाई बनाई जाती है। उसमें शुगर की मात्रा लगभग 30% होती है।

ऐसे में डायबिटीज के मरीजों के लिए शहतूत का सेवन करना फायदेमंद होता है। चीनी चिकित्सा पद्धति में सूजन और लालिमा के इलाज के लिए शहतूत का इस्तेमाल कई तरह से किया जाता है। रोमानियाई शोध में भी पाया गया है कि कुर्कुमीन और शहतूत के पत्ते को मिलाकर जलन का इलाज नेचुरल तरीके से किया जा सकता है।

शहतूत में पाए जाने वाले पोषक तत्व ( Nutrients in Mulberry ) :

सूखे शहतूत में विटामिन सी, आयरन और प्रोटीन भरपूर मात्रा में पाया जाता है। दिन में किसी भी समय सूखे शहतूत का नाश्ता करना फायदेमंद है। इसमें फाइबर के अलावा अन्य दूसरे पोषक तत्व भरपूर मात्रा में होते हैं। शहतूत के फल के साथ-साथ पत्ते भी पौष्टिक तत्वों से भरपूर होते हैं।

शहतूत इम्यूनिटी को करता है बूस्ट ( Mulberry boosts immunity ):

शहतूत में पाया जाने वाला एल्केलाइड मैक्रोफेज को एक्टिव करने का काम करता है। यह तत्व व्हाइट ब्लड सेल (White blood cells) की प्रतिरक्षा प्रणाली (इम्यून सिस्टम) को उत्तेजित कर देती है। यह माइक्रो न्यूट्रिशन इम्यून सिस्टम को हाई अलर्ट में डालकर हमारी बॉडी को स्वस्थ रहने में मदद करते हैं।

चेहरे से झुर्रियां दूर करता है ( Removes wrinkles from face ) :

जिन लोगों को चेहरे पर झाइयों की परेशानी है। उन्हें शहतूत का जूस पीना चाहिए। इससे चेहरे पर झुर्रियां नहीं रहती और चेहरा जवा बन जाता है। शहतूत में एंटी एजिंग अर्थात उम्र को रोकने वाले गुण भी पाए जाते हैं। ऐसे में यदि शहतूत का सेवन किया जाता है तो चेहरे से झुर्रियां गायब हो जाती हैं और त्वचा जवां बनी रहती है।

यह भी पढ़ें :– अनार का जूस दिमाग को तेज करने के अलावा इसलिए भी है फायदेमंद

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.