कोरोना के ओमिक्रोन वैरीअंट को न ले हल्के में आइए जानें इसके लक्षण एवं बचाव के तरीके

कोरोनावायरस की पहली लहर साल 2020 की शुरुआत में आई थी। तो लोग इसे लेकर उतना सतर्क नहीं थे। ऐसे में लोगों की नासमझी को समझा जा सकता है। लेकिन दूसरी लहर में कोरोना वायरस ने कहर ढाया था।

पूरे देश के लोगों के लिए कोरोना वायरस की दूसरी लहर न भूलने वाली घटना है। कई लोग ऐसे रहे हैं जिन्होंने अपने मां-बाप और परिजनों को खोया है। अब तीसरी लहर की बात हो रही है। लोग अब भी इसे हल्के में ले रहे हैं।

लोगों को कोरोना की तीसरी लहर को लेकर हर बात को लेकर सतर्क रहने की जरूरत है। भले ही कोरोनावायरस का नया वेरिएंट पहले की तुलना में काफी लोगों के लिए उतना खतरनाक नहीं रह गया है जितना दूसरी लहर में था।

लेकिन फिर भी इसे हल्के में बिल्कुल न लें। खासकर कि वो लोग जो किसी बीमारी से जूझ रहे हैं। उन लोगों को कोरोना वायरस के इस नए वैरियंट को लेकर सतर्कता जरूर बरतनी चाहिए। आइए जानते हैं इसके लक्षण –

ओमिक्रोन के लक्षण ( Symptoms of Omicron in Hindi ) :-

  • ओमिक्रोन से संक्रमित व्यक्ति में आम सर्दी जुखाम, जैसे गले में खराश, नाक बहना, सिर दर्द होना जैसे लक्षण देखे जाते हैं।
  •  शरीर में अधिक थकान के साथ कमजोरी महसूस होती है।
  •  ओमिक्रोन के मरीजों को बुखार आ जाता है। लेकिन वह अपने आप ठीक भी हो जाता है।
  •  ओमिक्रोन से संक्रमित व्यक्ति को पसीना काफी अधिक आता है। जिसकी वजह से कपड़े गीले हो जाते हैं।
  • ओमिक्रोन से संक्रमित व्यक्ति में सुखी खासी की समस्या देखने को मिल रही है।
  •  ओमिक्रोन से संक्रमित व्यक्ति में गले में जलन चौहान की समस्या भी पाई जा रही है।

ओमिक्रोन से बचने के लिए क्या करें ( What to do to avoid Omicron in Hindi ) :-

  • ओमिक्रोन के लक्षण दिखते ही इसका इलाज करवाएं और खुद को आइसोलेट करें
  •  घर में और संपर्क में आए लोगों को तुरंत सूचित करें और जांच करवाने के लिए कहे।
  • स्वास्थ्य विभाग से संपर्क करें और फिर फैमिली फिजिशियन से भी लगातार संपर्क बनाए रखें।
  • वैक्सीन की दोनों डोज जरूर लगवाएं और घर के सभी सदस्यों को वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित करें।
  •  बिना मास्क लगाए घर से बाहर कभी न निकले, साथ ही भीड़ भाड़ वाली जगह पर जाने से बचने की कोशिश करे।
  • जब तक इमरजेंसी की स्थिति न हो तो ट्रेन या बस से ट्रैवल करने से बचने की कोशिश करें।
  •  बाहर निकालने पर हमेशा सोशल डिस्टेंसिंग बनाने का पूरा प्रयास करें।

मालूम हो कि देश भर में कोरोना संक्रमण के मामले फिर से तेजी से बढ़ने लगे है। गुरुवार को 90928 मामले सामने आए हैं। शुक्रवार को भी कुछ ऐसे ही हाल रहा। शुरुआत के 6 दिन में ही कोरोना वायरस के 4 गुना से भी अधिक मामले देखे गए हैं।

सबसे ज्यादा मामले दिल्ली, मुंबई और कोलकाता में दर्ज किए गये। बता दें कि ओमिक्रोन वैरियंट काफी तेजी से देश भर में फैल रहा है। जिसकी वजह से कोरोना से संक्रमित लोगों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है।

देश में एक्टिव केसों की संख्या 2,85,000 से भी अधिक के आंकड़े को छू लिया है। महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा कोरोनावायरस कि नए मामले सामने आ रहे हैं।

यह भी पढ़ें :

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *