हर्निया की समस्या से बचने के लिए इस तरह की गलती करने से बचे

जब हमारा शरीर एक लय में होता है तब तक कोई समस्या नहीं होती है। लेकिन हमारी छोटी सी गलती कई बार मुसीबत का कारण बन जाती है। प्रकृति ने अपने शरीर को एक ऐसी संरचना में बनाया है कि यदि इसमें थोड़ी सी गड़बड़ी हो जाती है तो शरीर को नुकसान पहुंचने लगता है। कई समस्याएं ऐसी होती हैं जिन्हें हम थोड़े से प्रयास से हल सकते हैं। ऐसी ही एक समस्या है – हर्निया।

 हर्निया का इलाज आज के समय में बेहद आसान और हर जगह उपलब्ध है। लेकिन अगर कुछ बातों का ध्यान रखा जाए तो इस समस्या से बचा जा सकता है। कुछ उपाय ऐसे हैं जिनका आसानी से पालन किया जा सकता है।

लेकिन अक्सर देखा जाता है कि हम जानते हुए भी इसे नजरअंदाज कर देते हैं और बाद में मुश्किल बढ़ जाती है। आइए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से :-

क्या होती है हर्निया ( what is hernia in Hindi ) :-

हर्निया की समस्या उस स्थिति में पैदा होती है जब पेट में मांसपेशियों का मजबूत हिस्सा कमजोर हो चुकी मांसपेशियों की परत पर बढ़ने लगता है। आमतौर पर पेट की अंदरूनी दीवार को धकेल कर बाहर की तरफ करती है।

इसे एक्सटर्नल हर्नियां के नाम से जाना जाता है। हर्निया कई प्रकार से हमारे शरीर में जन्म लेती है। इसलिए इसको लेकर रखी जाने वाली सावधानियां भी अलग-अलग हैं।

यहां पर एक बात जो सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण यह है कि सभी प्रकार की हर्निया से बचना थोड़ा मुश्किल होता है। जैसे जन्म से ही पेट की मांसपेशियों का कमजोर होना है या पेट की किसी सर्जरी के बाद हर्निया का विकसित होना यह इंसान के हाथ में नहीं होता है। लेकिन कुछ ऐसे तरीके हैं जिन्हें अपना कर इस समस्या से काफी हद तक बचा जा सकता है।

हर्निया की समस्या से बचने के उपाय ( Ways to avoid the problem of hernia in Hindi ) :-

इस समस्या से बचने के लिए अपने वजन को संतुलित रखें। इसमे बहुत ज्यादा बढ़ने न दें। वजन बढ़ने से पेट की अंदरूनी दीवारों पर हर गतिविधियों के दौरान एक्स्ट्रा फैट का बोझ लगातार बढ़ने लगता है जो कि शरीर में होने की समस्या को पैदा कर सकता है।

एक्सरसाइज करना बहुत जरूरी है

अगर हम एक्सरसाइज नहीं करते हैं और अचानक से कोई एक्सरसाइज करना शुरू कर देते हैं तो यह स्वास्थ्य के लिए नुकसान दे भी हो सकता है।

इसलिए डॉक्टर या प्रशिक्षक से सलाह लेने के बाद ही कोई कठिन एक्सरसाइज शुरू करना चाहिए। कई बार देखा जाता है गलत एक्सरसाइज करने की वजह से पेट पर दबाव पड़ने लगता है जो कि बाद में हर्निया की समस्या उत्पन्न करता है।

डाइट

डाइट में फाइबर से भरपूर फल सब्जियों और अनाज को जरूर शामिल करें। इससे पाचन तंत्र बेहतर रहता है। कब्ज की समस्या रहने पर भी पेट पर दबाव पड़ता है जो धीरे-धीरे हर्निया की समस्या के रूप में बढ़ सकता है।

इन गलतियों को बिल्कुल करें

  • सिगरेट के सेवन से दूर रहें। सिगरेट हमारे फेफड़े को नुकसान पहुंचाता है साथ ही इससे खांसी की समस्या बढ़ने लगती हैं जो धीरे-धीरे पेट पर दबाव डालने लगती है। यदि किसी को पहले हानियां की समस्या हुई रही हो तो उसे सिगरेट के सेवन से परहेज करना चाहिए नही तो गंभीर समस्या उत्पन्न हो सकती है।
  • अचानक नीचे झुक कर भारी सामान उठाने से हमेशा बचना चाहिए। अगर कोई सामान उठाना है तो सबसे पहले दोनों पैर को मोड़कर हाथों से सामान को पेट के सीधे तक लाकर ही उसे ऊपर उठाएं।
  • यदि पेट की किसी प्रकार की सर्जरी हुई वह तो इस बात का ध्यान रखें कि जब तक पूरी तरह से ठीक न हो जाए डॉक्टर की सलाह को मानते रहे।
  • अगर बचपन से ही पेट से जुड़ी समस्या रही है तो डॉक्टर के बताए अनुसार डाइट और रूटीन का जरूर पालन करें।

यह भी पढ़ें :–

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.